bollywood

  • Feb 14 2020 9:55AM
Advertisement

स्त्री-पुरूष संबंधों के बिना मैं कोई कहानी नहीं बुन सकता: इम्तियाज अली

स्त्री-पुरूष संबंधों के बिना मैं कोई कहानी नहीं बुन सकता: इम्तियाज अली

नयी दिल्ली: निर्देशक इम्तियाज अली का कहना है कि ऐसी फिल्म संभव हो सकती है जिसके मूल में रोमांस न हो किंतु स्त्री-पुरूष संबंधों की शामिल किए बिना उनके लिए कोई कहानी बुनने की कल्पना करना भी मुश्किल है. 

सारा अली खान और कार्तिक आर्यन की फिल्म “लव आज कल” में इम्तियाज ने 2009 में बनी मूल फिल्म के विषय पर फिर से काम किया है. इसकी मुख्य कहानी दो अलग अलग कालखण्ड के प्रेम संबंध हैं.

निर्देशक ने बताया, “मैं प्रेम कहानियों के साथ सहज हूं लेकिन ऐसा नहीं है कि हर कहानी को ऐसा होना चाहिए. मैं नहीं चाहूंगा कि यह सहजता मुझे किसी और तरह की कहानी लिखने से रोके. बिना रोमांस की कहानी लिखना संभव है लेकिन वैसा लिखना इस समय मेरे लिए मुश्किल है.”

यह पूछे जाने कि रोमांस के बिना फिल्म लिखना क्या उनके लिए संभव है, इम्तियाज ने कहा कि वह भी इस बात को लेकर हैरत में हैं. उन्होंने कहा कि, “हाइवे' जैसी फिल्म में भी एक आदमी(रणदीप हुड्डा) है. मेरे पास ऐसी कोई कहानी नहीं है जिसमें स्त्री-पुरूष के बीच कोई ऐसा संबंध ना हो. जिंदगी और रिश्तों की बढ़ती समझ के साथ चीजें बदलती हैं लेकिन मेरे दिमाग में बिना स्त्री-पुरूष संबंधों कोई कहानी है.”

इस फिल्म में रणदीप हुड्डा और आरूषी शर्मा भी अहम किरदार निभाएंगे. फिल्म शुक्रवार को दर्शकों के सामने आने को तैयार है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement