other state

  • Feb 18 2020 7:32PM
Advertisement

WHATT?? दो दिन की दुल्हन ने दिया बेटी को जन्म, पूरा मामला जानकर रह जाएंगे दंग

WHATT?? दो दिन की दुल्हन ने दिया बेटी को जन्म, पूरा मामला जानकर रह जाएंगे दंग
सांकेतिक तस्वीर.

खबर अंबाला सिटी से है. वैलेंटाइन डे के दिन एक लड़की की शादी हुई और अभी दूल्हे के परिवार का शादी का खुमार भी नहीं उतरा था कि महज दो दिन बाद ही उसने एक लड़की को जन्म दिया. दूल्हे के परिवार के लिए अब यह बात न बताने लायक है और न छिपाने ही लायक.

 

अस्पताल में बच्ची के जन्म के बाद ससुराल वालों ने दुल्हन और बच्ची को अपनाने से साफ इनकार कर दिया है. ताज्जुब की बात तो यह है कि दुल्हन के 9 माह की गर्भवती होने के बावजूद शादी में यह राज छिपा कैसे रह गया. बहरहाल, यह मामला अब पुलिस के पास पहुंच गया है.

क्या कहते हैं दुल्हन के घरवाले
दुल्हन की दादी और अन्य घरवालों ने इस बारे कोई जानकारी होने से इनकार कर दिया है. वहीं, दुल्हन की बड़ी बहन का कहना है कि बच्ची के जन्म के बाद बहन से उसकी बात हुई है. उसने इसके लिए पड़ोस के रहने वाले शादीशुदा व्यक्ति काे जिम्मेदार ठहराया है.

क्या कहती है पुलिस
महिला थाना की एसएचओ सुनीता ने कहा, 14 फरवरी (वैलेंटाइन डे) को लड़की की शादी हुई थी. इसके दो दिनों बाद सोमवार को उसे रक्तस्राव होने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर उसने बच्ची को जन्म दिया. डॉक्टरों से हमारी बातचीत हुई है. उनका कहना है कि लड़की को ब्लीडिंग होती थी, जिसकी वजह से उसे इस बात का पता भी नहीं चला. अभी मां कुछ बोल पाने की स्थिति में नहीं है. हमारे पास यह मामला आया है. हम इसके हर पहलू की जांच करेंगे.

ऐसा कैसे हो गया
इस रिश्ते में अगुवा की भूमिका में रही महिला ने बताया कि रिश्ते के बाद से लड़का-लड़की आपस में नहीं मिले. वे खुद हैरान हैं कि ऐसा कैसे हो गया, जबकि लड़की के घर में उसकी मां, बड़ी बहन, छोटी बहन व एक भाई है. ऐसा कैसे हो सकता है कि किसी को भी उसका गर्भ नजर नहीं आया हो. उनके साथ धोखा हुआ है.

नवजात को अपनाने से इनकार
शादी के महज दो दिनों बाद लड़की के जन्म से ससुरालवालों के पैरों तले जमीन खिसक गई है. वहीं, परिवार ने नवजात बच्ची को अपनाने से इनकार कर दिया है. अब सवाल यह उठता है कि क्या गर्भवती महिला पर लड़केवालों की नजर नहीं गयी, तो इसके जवाब में परिवारवालों का कहना है कि सामान्य बीमारी की बात कहकर यह सच छिपाया जाता रहा.

Most Popular

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement